Sunday, December 9, 2018

Aurangabadian

Aurangabad Beat | Aurangabad Beats | औरंगाबाद बीट

Aurangabad beat
Aurangabad Beat

Aurangabad Beat , as the name suggests, symbolizes the ever changing and growing portal of Aurangabad. For a city which is the Major Town and city of South  Bihar, there is hardly any portal or blogger site which offers premium coverage of the latest city events, news and beyond. Rather than waiting forever for someone to step forward, we decided to put the onus on ourselves and thus AurangabadBihar-Update  was launched.

AurangabadBihar-Update aims to represent the city of Aurangabad  in various fields, celebrating the youth culture of the city, offering the most updated feed of news available online, extending its reach by doing various offline and online events as well as stepping forward for social causes. Along with it you can always stay updated with city.

The launch of the website is just the start of our journey and we plan and hope that it’ll enable us to reach out directly to the youth of the city and together create the most sophisticated and professional media outlet to have come out of the city.

 AurangabadBihar-Update is our humble attempt to offer the citizens of Aurangabad , Bihar and the entire south  Bihar a platform through which they can share their thoughts as well as offer them a portal on which they’ll find the latest and most relevant pool of information without needing to look in several directions.

Through this portal you can explore everything from entire Aurangabad such as entire block village’s event and update.
Read More

Saturday, December 8, 2018

Aurangabadian

दाऊद खान किला का हुआ सौंदर्यीकरण अब लोग दूर दूर से लोग देखने आ सकेंगे

Daud khan kila daudnagar
Daud Khan killa Daudnagar


दाउदनगर औरंगाबाद दाऊद खान किला पुरातत्व विभाग की पहल के बाद दाउद खां के ऐतिहासिक किले की स्थिति बदली है किले का सौंदर्याकरण हुआ है पहले जहां लोग खुलेआम स्वच्छता अभियान की धज्जियां उड़ाते हुए किला परिसर में खुले में शौच करते थे ,


गंदगी व्याप्त रहती थी , वह स्थान आज सुबह में सैर सपाटे का अड्डा बन गया है . पुरातत्व विभाग ने एक डेढ़ वर्ष पहले किला परिसर के सौंदर्याकरण के काम में लग गया था . लेकिन कभी धीमी तो कभी तेज गति से काम चलता रहा . इधर कुछ महीनों से काम पूरी तरह बंद दिख रहा है . हालांकि , यह पता नहीं चल पाया कितनी राशि से किला परिसर का सौंदर्याकरण करने की योजना है . लेकिन अब जो स्थिति है वह यह है कि किला परिसर के दोनों तरफ गेट लगा दिया गया है . दक्षिण पश्चिम की तरफ की चहारदीवारी करा दी गयी है . उत्तर की ओर चहारदीवारी नहीं करायी गयी है . HTवीं शताब्दी में हुआ था निर्माण दाउदनगर शहर के पुराना शहर में दाऊद खांकिला स्थित . ऐतिहासिक दस्तावेजों के अनुसार , 17 वीं शताब्दी में दाउद खां के किले का निर्माण हुआ था .


दाउद खां औरंगजेब के सिपहसालार थे . 1659 से 1664 तक वे बिहार के सूबेदार थे पलामू फतह के बाद बादशाह औरंगजेब ने दाऊद खां को अंछा मनोरा व दाउदनगर परगना भेंट किया था . इसके बाद दाउद खां किले का निर्माण कराया था .


किला परिसर में चारों तरफ पैदल पथ का निर्माण कराया गया है .
 पांच पीसीसी पथ बनाया गया है . कई जगहों पर लोगों को बैठने या आराम करने के लिए चबूतरा बनाया गया है . पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए पौधा और फूल लगाने के लिए दर्जनों गेवियन बनाये गये हैं पौधे फूल लगने के बाद किला परिसर की सुंदरता काफी बढ़ जायेगी . ' 

जल निकासी व सफाई की व्यवस्था नहीं - 
" किला परिसर का सौंदकरण होने के बावजूद आश्चर्य की बात तो यह कि काम अब बंद हो गया है तो दूसरी ओर किला परिसर में बनाये गये पीसीसी पथ के किनारे चारों तरफ बड़ी - बड़ी झाड़ियां भी दिखती हैं . सफाई भी नहीं होती . किला परिसर में करीब 10 फुट चौड़ा पहुंच पथ का निर्माण किया गया है , लेकिन बीच की जो खाली पड़ी स्थान है उसमें से जल निकासी की कोई व्यवस्था नहीं की गयी है . सफाई नहीं होने के कारण गंदगी व्याप्त दिखती है ।




किला परिसर के सौंदर्यकरण कार्य होने के बाद सबसे बड़ा लाभ यह दिख रहा है कि काफी संख्या में लोग सुबह शाम सुबह में मॉर्निग वॉक करने पहुंच रहे हैं . सुबह में खासकर महिलाओं की अच्छी - खासी भीड़ कला परिसर में देखी जाती है . शाम में भी स्वास्थ्य लाभ लिए लोग घुमने पहुंच रहे हैं . दिनभर बच्चे व किशोर किला परिसर में खेलते कूदते हैं . वैट करने पहुंचते हैं लोग

पत्राचार करने का दिया गया है निर्देश 
दाउद खां का ऐतिहासिक किला परिसर पुरातात्विक व ऐतिहासिक अवशेष है . इसके संरक्षण किये जाने की आवश्यकता है . यह स्थापत्य कले का अद्भुत उदाहरण है . नगर प्रबंधक व प्रधान सहायक को निर्देश दिया गया है कि पुरातत्व विभाग व पर्यटन विभाग से पत्राचार कर इस ऐतिहासिक धरोहर के संरक्षण के लिए आवश्यक पहल करने का अनुरोध करें . जहां तक किला परिसर में प्रकाश की व्यवस्था की बात है तो यदि बिजली विभाग द्वारा बिजली तार व पोल की व्यवस्था कर दी जाती है तो इइसीएल के माध्यम से किला परिसर में लाइट लगवा दिये जायेंगे डॉ अमित कुमार नगर कार्यपालक पदाधिकारी नगर पर्षद दाउदनगर



Read More

Sunday, December 2, 2018

Aurangabadian

पहली बार बिहार के खिलाड़ी भी आईपीएल नीलामी में लेंगे भाग


सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बिहार के क्रिकेटरों के बुरे दौर धीरे - धीरे समाप्त होने लगे हैं . पिछले 18 साल में क्रिकेट के कई पौध बर्बाद हो गये , लेकिन अब ऐसा नहीं होगा , विजय हजारे ट्रॉफी ( वनडे ) और रणजी ट्रॉफी में खेलने के बाद अब बिहार के क्रिकेटर इंडियन प्रीमियर लीग ( आईपीएल ) में भी चौका छक्का जड़ते नजर आयेंगे पहली बार बिहार के खिलाड़ी इस वर्ष होनेवाली आईपीएल की नीलामी में हिस्सा लेंगे . इसका खुलासा बिहार क्रिकेट एसोसिएशन ( बीसीए ) द्वारा शनिवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ( बीसीसीआई ) के क्रिकेट ऑपरेशन के जीएम सबा करीम ने किया


सबा ने कहा कि बीसीए द्वारा चयनित खिलाड़ियों की सूची बीसीसीआई को भेजी जायेगी . उसके बाद आईपीएल कमेटी के पास यह सूची जायेगी जिस पर नीलामी में भाग लेने का निर्णय लिया जायेगा . उन्होंने ऑस्ट्रेलिया सीरीज पर कहा कि पृथ्वी शॉ के चोटिल होने )


से टीम पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ा है उम्मीद है टीम इस बार ऑस्ट्रेलिया सीरीज जीतेगी . मिताली राज के मामले पर सबा करीम ने ज्यादा कुछ नहीं बोला , लेकिन
यह जरूर कहा कि टीम के कोच रमेश पवार का कार्यकाल समाप्त हो गये है और नये कोच की तलाश शुरू हो गयी है . इसके पूर्व करीम ने बीसीए के कमेटी ऑफ मैनेजमेंट के साथ
बैठक भी की , जिसमें बीसीए सचिव रविशंकर प्रसाद सिंह , उपाध्यक्ष नवीन जमुआर कोषाध्यक्ष आनंद कुमार , सदस्य अमीकर दयाल प्रवीण कुमार , सीईओ सुधीर कुमार झा शामिल थे .




बिहार की मेजबानी सेखुशसबा , मोइनुल हक स्टेडियम का ग्राउंड बेहतर

सबा करीम ने कहा कि मैं मोइनुल हक स्टेडियम में बहुत खेला हूं . यहां सालों बाद रणजी ट्रॉफी का मैच हुआ . जिसमें बिहार ने सिक्किम पर बड़ी जीत हासिल की . बिहार में अगर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की मेजबानी के लिए सभी जरूरतें पूरी कर ली जाती हैं , तो यहां भी मैचों का आयोजन जरूर होगा . बीसीए इस ग्राउंड को फिर से अंतरराष्ट्रीय

पहचान दिलाने का प्रयास कर रहा है . बीसीसीआई से जो मदद मांगी जायेगी उसे पूरी करने का प्रयास किया जायेगा . जितने भी नये राज्य इस बार रणजी ट्रॉफी के मैच खेल रहे हैं . उनको हर प्रकार से बोर्ड मदद कर रहा है . फिलहाल बिहार इस वर्ष बोर्ड के कुल 14 मैचों की मेजबानी कर रहा , जो बड़ी बात है .
Read More
Aurangabadian

शांतिपूर्ण शुरू हुई स्नातक तृतीय खंड की परीक्षा



मगध विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित स्नातक तृतीय खंड की परीक्षा दाउदनगर के तीन परीक्षा केंद्रों पर शनिवार को शांतिपूर्वक शुरू हुई यह परीक्षा दोनों पारियों में हुई परीक्षा को लेकर काफी भीड़ भाड़ एवं चहल पहल देखने को मिली निर्धारित समय से काफी पहले ही परीक्षार्थी अपने परीक्षा केंद्र के नजदीक पहुंच गए और परीक्षा केंद्र का मुख्य द्वार खुलते ही निर्धारित सीट पर जाकर बैठ कर परीक्षा दी . शांतिपूर्ण एवं कदाचारमुक्त परीक्षा संचालन के लिए दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी के नेतृत्व में परीक्षा केंद्रों पर की गई थी . परीक्षा केंद्रों से मिली जानकारी के अनुसार परीक्षा के पहले दिन तीनों परीक्षा केंद्रों को मिलाकर कुल 88 परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे ।


भगवान प्रसाद शिवनाथ

प्रसाद बी एड कॉलेज परीक्षा केंद्र पर 372 एवं दूसरी पाली में 254 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए इस परीक्षा केंद्र से जानकारी मिली कि पहली पाली में 10 और दूसरी पाली में सात परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे वहीं महिला कॉलेज परीक्षा केंद्र पर पहली पाली में 311 तथा दूसरी पाली में 202 परीक्षार्थी उपस्थित रहे इसके केंद्र से जानकारी मिली कि पहली पाली में सात एवं दूसरी पाली में नौ परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे हैं . दाउदनगर कॉलेज दाउदनगर परीक्षा केंद्र पर पहली पाली में 801एवं दूसरी पाली में 639 परीक्षार्थी परीक्षा में उपस्थित रहे . यहां से जानकारी मिली कि पहली पाली में 31 और दूसरी पाली में 24 परीक्षार्थी परीक्षा से अनुपस्थित रहे . यानी परीक्षा शुरुआत का पहला दिन शांतिपूर्ण रहा तीनों परीक्षा केंद्रों के आसपास अभिभावकों की भी काफी भीड़ लगी दिखी . ।


Read More

Sunday, November 25, 2018

Aurangabadian

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत नए नाम जोड़ने का सर्वे शुरू


जिले में जो भी लाभुक प्रधानमंत्री आवास योजना से वंचित रह गए है । और उन्हें आवास की जरूरत हैं . वैसे लाभुकों का सर्वे विभाग के निर्देश पर शुरू कर दिया गया हैं . इसी क्रम कुबूबा प्रखंड के सभी पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीब लाभुकों नाम जोड़ने का अभियान चलाया जा रहा है .


बीडीओ लोक प्रकाश ने बताया कि यह अभियान पूरी पारदर्शिता के साथ पूरे प्रखंड में चल रहा है . साथ ही बताया कि नाम जोड़ने का अंतिम तिथि 30 नवंबर है . वैसे व्यक्ति सभी जिनका मकान मिट्टी का है एवं पूर्व में कभी भी आवास का लाभ प्राप्त नहीं है उनका नाम चयन किया जा रहा है


। सरकार का महत्वाकांक्षी योजना में यह कार्य चल रहा है . इस दौरान आवास पर्यवेक्षक अमित कुमार सिंह , आवास सहायक उपस्थित थे . ज्ञात हो कि जिले में कई


वैसे लाभुक हैं जिनका नाम सूची में नहीं होने के कारण अबतक नहीं बन सका हैं , जबकि वे बेहद ही गरीब थे . यही कारण हैं कि वैसे लोगो का नाम सूची में शामिल करने के लिए नाम जोड़ा जा रहा हैं .इनपुट प्रभातख़बर


Read More
Aurangabadian

सीएम नीतीश कुमार ने कहा बालू की कीमत नही बढ़नी चाहिए| पिछले साल की कीमत पर दी जाए बालू


बालू लदा ट्रैक्टर
बालू लदा ट्रैक्टर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खान एवं भूतत्व विभाग के अधिकारियों को यह सनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि लोगों को बालू के लिए ज्यादा कीमतें नहीं देनी पड़े इसकी विस्तृत समीक्षा कर आगे के लिए सुधारात्मक कदम उठाये जायें ताकि उपभोक्ताओं को राहत मिल सके . मुख्यमंत्री ने कहा कि ओवरलोडिंग से सड़कों की हालत खराब हो रही है


, इस पर प्रतिबंध का पालन भी सुनिश्चित हो , मुख्यमंत्री शनिवार को 1 अणे मार्ग स्थित संकल्प में खान एवं भूतत्व विभाग की समीक्षा कर रहे थे . सीएम के समक्ष खान एवं भूतत्व विभाग ने बालू खनन एवं अन्य विभागीय विषयों के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया . बैठक में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी मौजूद थे .


मुख्यमंत्री ने बालू की बढ़ी हुई कीमतों के संबंध में विस्तृत समीक्षा करने का निर्देश दिया . मुख्यमंत्री ने जानना चाहा कि जुलाई 
2017 के समय जो बालू की कीमतें थीं , उसकी तुलना में आज इतनी ज्यादा कीमतों की वजह क्या है . उन्होंने पूछा कि जिन्हें लीज दिया गया है , क्या वे अपने अधीन सबलीज देकर मनमानी दर पर बालू की बिक्री तो नहीं कर रहे हैं .


मुख्यमंत्री ने इन सब चीजों पर माइक्रो लेवल पर समीक्षा करने का निर्देश भी दिया . सीएम ने बैठक में साफ कहा कि 

बालू की दर नियंत्रित रहे और नियमों तथा तय मानक के अनुसार ही खनन हो . अवैध खनन पर सख्ती से रोक लगे बैठक में खान एवं भूतत्व मंत्री विनोद कुमार सिंह मुख्य सचिव दीपक कुमार , पुलिस महानिदेशक केएस . द्विवेदी गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव आमिर सुबहानी , खान एवं भूतत्व विभाग की प्रधान सचिव अंशुली आर्या


मुख्यमंत्री के 
प्रधान सचिव चंचल कुमार , पुलिस महानिदेशक ( स्पेशल ब्रांच ) जेएस गंगवार , मुख्यमंत्री के सचिव मनीष कुमार वर्मा , खान एवं भूतत्व विभाग के सचिव असंगवा चुवाआवो विशेष सचिव मुख्यमंत्री सचिवालय अनुपम कुमार , मुख्यमंत्री के विशेष कार्य पदाधिकारी गोपाल सिंह सहित खान एवं भूतत्व विभाग के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे . इनपुट प्रभातख़बर.
Read More

Saturday, November 24, 2018

Aurangabadian

ट्रैक्टर पलटने से ग्रामीण की मौके पर ही मौत Aurangabad Beat


मदनपुर-थवई पथ में घोरहत मोड़ के पास शनिवार को ट्रैक्टर पलटने से मिश्री बिगहा गांव निवासी 55 वर्षीय महेंद्र चौधरी की मौत हो गई। महेंद्र कचहरी रोड निवासी दिवंगत दुखी चौधरी का पुत्र बताया जाता है। जानकारी के अनुसार महेंद्र गरीब परिवार का है। सोनपापड़ी बेचकर घर लौट रहा था। इसी बीच ईट लेकर आ रहा ट्रैक्टर अचानक असंतुलित होकर पलट गया।


वह गांवों में घूमकर कबाड़ा से सोनपापड़ी बेचता था। इसी के सहारे उसका घर परिवार चल रहा था। शनिवार को सोनपापड़ी बेच कबाड़ा लेकर अपना घर लौट रहा था। अचानक घर के कमाने वाले सदस्य की मौत से परिवार के समक्ष समस्या उत्पन्न हो गई है। घटना की खबर सुन ग्रामीण घटनास्थल पहुंचे और मुआवजा की मांग करने लगे। कहा कि बगैर मुआवजा के शव नहीं उठने देंगे। सीओ एवं थानाध्यक्ष पहुंचे और परिजनों को समझाकर मामला शांत कराया।


सीओ ने जांच रिपोर्ट आने के बाद मृतक के परिजन को चार लाख रुपये मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। थानाध्यक्ष सौरभ कुमार ने शव को का पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया है। मुखिया सुरेंद्र प्रसाद ने तत्काल नकद राशि देकर सहायता की है। अचानक इस घटना से परिजन मर्माहत है। पत्नी शांति देवी रोते-रोते बेहोश हो जा रही थी। होश आते ही अपने पति को खोजने लगती थी। मृतक के साथ चल रहे रुनिया गांव के भरत ¨सह भी ट्रैक्टर की चपेट में आने से गंभीर रूप से घायल हुए है। जिनका प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मदनपुर में प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज हेतु रेफर किया गया है। of dainik jagran.

Read More