Wednesday, September 19, 2018

Aurangabadian

औरंगाबाद में उपद्रवियों पे ड्रोन से रखी जाएगी नजर

औरंगाबाद

औरंगाबाद जिला वैसे शांति प्रिय जिला है यहाँ हर पर्व त्योहार पे लोग शांति और सौहार्द बनाये रखते है पर पिछले साल हुए वयापक हिंसा के कारण अब जिला प्रशासन किसी भी हिंसा को रोकने के लिए अब हमेशा तैयार रहने में रहती है। पूरे जिले आने वाले दिनों में पर्व के कभी पुख्ता सुरक्षा की है। न्यूज़ सोर्स दैनिक जागरण के मुताबिक मुहर्रम को लेकर जिला एवं पुलिस प्रशासन चौकस है। रामनवमी जुलूस के दौरान हुए तनाव को देखते हुए मुहर्रम में विधि व्यवस्था को लेकर प्रशासन ने अपनी तैयारी पूरी कर ली है। 21 एवं 22 सितंबर को जिले में मुहर्रम मनाया जाएगा। खबर के मुताबिक  एसपी डा. सत्यप्रकाश के निर्देश पर शहर में ड्रोन उड़ाया गया। एसडीओ डा. प्रदीप कुमार, एएसपी अभियान राजेश कुमार ¨सह, एसडीपीओ अनूप कुमार, नगर थानाध्यक्ष राजेश वर्णवाल, मुफस्सिल थानाध्यक्ष कृष्णनंदन कुमार की मौजूदगी में कोबरा के जवानों ने रमेश चौक से ड्रोन को उड़ाया। कोबरा की ड्रोन शहर के हर मुहल्लों के उपर उड़ता रहा। अधिकारियों ने ड्रोन के माध्यम से शहर के हर मुहल्ले के घरों की गतिविधि को देखा। ड्रोन के द्वारा जहां भीड़ दिखाया गया वहां की गतिविधि की जांच कराई गई। जिस मकान पर रोड़ा दिखा उस घर की भी मुआयना किया गया। एएसपी ने बताया कि मुहर्रम के दिन नगर थाना से पूरे दिन ड्रोन को शहर के उपर उड़ाया जाएगा। ड्रोन के माध्यम से शहर की हर गतिविधि पर नजर रखी जाएगी। बताया कि ड्रोन के माध्यम से 400 मीटर उपर से करीब चार किमी की एरिया की हर गतिविधि को देखा जा सकता है। ड्रोन के माध्यम से शहर के हर सड़क व गली की गतिविधि देखी जा सकती है। ड्रोन के माध्यम से शहर मे जहां भी विधि व्यवस्था की समस्या देखी जाएगी वहां शीघ्र पुलिसबल को रवाना किया जाएगा। बताया गया कि जंगल में छिपे रहने वाले नक्सलियों की गतिविधि को दिखाने में ड्रोन कोबरा एवं सीआरपीएफ बलों को मददगार साबित होती है। आकाश में उड़ते ड्रोन को देखने के लिए रमेश चौक पर भीड़ लगी रही। पुलिस भीड़ को हटाने में लगी रही।



मुहर्रम पर्व के लेकर जिले में हर तरह से शांति बनाए रखने के लिए जिले में कई जगह को संवेदनशील घोसित किया गया है। दैनिक जागरण के अनुसार
मुहर्रम को लेकर शहर में 12 जगहों को संवेदनशील बनाया गया है। जामा मस्जिद, नावाडीह रोड स्थित हनुमान मंदिर, नावाडीह रोड, क्लब रोड, अहरी, अजमेर नगर, बराटपुर, धरनीधर मोड़, धर्मशाला चौक, शाहपुर चौक, टिकरी मोहल्ला, रमेश चौक एवं काली क्लब को संवेदनशील जगह घोषित किया गया है। इन जगहों पर प्रशासन के द्वारा विशेष निगरानी रखी जाएगी। सभी जगहों पर दंडाधिकारी, पुलिस पदाधिकारी के साथ सुरक्षा बलों को 24 घंटे के लिए तैनाती की गई है। मुफस्सिल थाना में भरथौली सरीफ, सनथुआ, इब्राहिमपुर, रजोइ, बिजोई समेत 13 जगहों को संवेदनशील बनाया गया है। सबसे अधिक रफीगंज, दाउदनगर एवं गोह थाना में संवेदनशील जगह बनाया गया है। दाउदनगर में दाउदनगर बाजार, चौरी, चुड़ी बाजार स्थित मस्जिद, भखरूआ मोड़, जिनोरिया, चावल बाजार, कसेरा टोली, पुरानी शहर, गोला बाजार समेत 18 जगहों को संवेदनशील बनाया गया है। गोह के झरहा, प्रानपुरा, गोह बाजार, देवहरा, दधपी, बक्सर, फाग, दरार, समेत 18 जगहों को संवेदनशील बनाया गया है। जम्होर में सात, बारुण के जोगिया बाजार समेत 9, नवीनगर में 15, माली में 9, टंडवा में 11, कुटुंबा में सोनारखाप, सांडी समेत 8, अंबा में 5, देव में 6, कासमा में 11, रफीगंज में 25, ओबरा में 7, मदनपुर में 15, देवकुंड में 3, बंदेया में 4, पौथू में 4 एवं खुदवां थाना क्षेत्र में तीन जगहों को संवेदनशील जगह घोषित किया गया है। सभी जगहों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की गई है। खबर स्रोत दैनिक जागरण।।


अगर आप चाहते है की ऐसे ही बेहतरीन आर्टिकल पढना तो आप अपना ईमेल आई डी यहाँ डाले और सीधे पाए लेख अपने ईमेल पे :
आपको इस आर्टिकल को पढने के लिए और इस पेज पे विजिट के लिए धन्यवाद | आपको ये आर्टिकल कैसा लगा हमें जरुर बताये निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में. आप अपना बहुमूल्य विचार निचे व्यक्त करें.