Saturday, September 29, 2018

Aurangabadian

एक ऑक्टोबर से परीक्षा है पर अभी तक मगध यूनिवर्सिटी से एडमिट कार्ड नही जारी हुई

Magadh university
Magadh university

महिला कॉलेज मेंशुक्रवार को बीए पार्ट थर्ड की परीक्षा को लेकर कला संकाय के छात्राओं के बीच एडमिट कार्ड का वितरण किया जा रहा था । वहीं विज्ञान संकाय में एडमिट कार्ड न मिलने से छात्राओं का गुस्सा फूट पड़ा और छात्राएं हंगामा करने लगी । छात्राओं ने कॉलेज प्रशासन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया । छात्राओं ने कला संकाय का एडमिट कार्ड वितरण को भी रोक दिया । आक्रोशित छात्राओं का कहना था कि यदि कॉलेज को परीक्षा लेनी है तो सभी संकाय के छात्राओं की परीक्षा ले । अन्यथा किसी की नहीं यदि वे लोग परीक्षा नहीं देंगे तो कला संकाय के छात्र छात्राओं को भी परीक्षा नहीं देने देंगे । यह उन लोगों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है । छात्राओं का यह भी कहना था कि परीक्षा लगभग दस माह लेट लिया जा रहा है । वहीं विज्ञान संकाय की छात्राओं का एडमिट कार्ड भी जारी नहीं किया गया । छात्राओं के हंगामा की सूचना पर कॉलेज के प्राचार्य सच्चिदानंद सिंह सहित अन्य पहुंचे और उन्हें समझाने का प्रयास करने लगे । लेकिन छात्राएं मानने को तैयार नहीं थी । उन्होंने ने आगे कहा मगध विश्वविद्यालय का मामला कोर्ट में चल रहा है । जिसके कारण यह परेशानी उत्पन्न हुई है जिसे जल्द दूर कर लिया जाएगा ।



दाउदनगर अनुमंडल क्षेत्र के विभिन्न कॉलेजों में बीए पार्ट थर्ड के नामाकित लगभग 8 हजार से ज्यादा छात्र - छात्राओं का भविष्य अधर में लटकता दिख रहा है । क्योंकि परीक्षा में महज अब तीन दिन का समय ही बचा हुआ है और अब तक इनका एडमिट ही नही मिला है। याद रहे महिला कॉलेज रामनरेश सिंह यादव कॉलेज केके मंडल साइंस कॉलेज कुसुम यादव कॉलेज कामेश्वर सिंह कॉलेज सहैत कई कॉलेज को  जांच रिपोर्ट पर इन कॉलेजों की संबंधता ही रद्द कर दी गई थी । इस कारण से इन कॉलेजों के बीए पार्ट थर्ड के छात्र - छत्राओं का एडमिट कार्ड ही जारी नहीं किया गया | है । महिला कॉलेज में 2400 से ज्यादा छात्राएं । लेकिन वहां मात्र आट्र्स के ही 600 छात्राओं का एडमिट कार्ड आया है । अब इस स्थिति में नामांकित छात्र छात्राएँ कैसे परीक्षा दे पाएंगी । यह कहना मुश्किल है।



वहाँ मौजूद छात्राओं ने कह कि अपने भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगी । यदि विज्ञान संकाय की परीक्षा नहीं ली गई तो वे लोग कॉलेज में तालाबंदी करेंगी । इसके साथ साथ सड़क जाम भी किया जाएगा । एक अक्टूबर से स्नातक लिए डीएन कॉलेज व महिला कॉलेज में परीक्षा केन्द्र बनाया गया है । छात्राओं ने इस संबंध में एसडीओ से भी मुलाकात की और अपनी समस्या से अवगत कराया । छात्राओं ने कहा कि अगर परीक्षा नहीं ली गई तो वे लोग दोनों केन्द्रों पर तालाबंदी कर देंगी । इसके लिए कॉलेज प्रशासन जिम्मेदार होगा ।


अगर आप चाहते है की ऐसे ही बेहतरीन आर्टिकल पढना तो आप अपना ईमेल आई डी यहाँ डाले और सीधे पाए लेख अपने ईमेल पे :
आपको इस आर्टिकल को पढने के लिए और इस पेज पे विजिट के लिए धन्यवाद | आपको ये आर्टिकल कैसा लगा हमें जरुर बताये निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में. आप अपना बहुमूल्य विचार निचे व्यक्त करें.