Friday, September 14, 2018

Aurangabadian

औरंगाबाद जिले में बिजली कंपनी के कर्मचारियों के बंधक बनाने का मामला सुलझा



औरंगाबाद : आप ये खबर पढ़कर सायद  अचंभित हो सकते है। ऐसी घटना आप पहली बार जान रहें होंगे किसी गांव वाले लोग सिर्फ बिजली कनेक्शन न रहने के कारण बिजली विभाग के कर्मचारियों को बंधक बनाया। और अपनी मांगे भी पूरी कराई दरसल ये घटना बिहार के औरंगाबाद में भारतीय रेल बिजली कंपनी लिमिटेड (बीआरबीसीएल) के कर्मचारियों और उनके परिवार वालों को बंधक बनाने का तीन दिन से चल रहा संकट खत्म हो गया है. अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार शाम को हुई बैठक के दौरान संकट सुलझ गया जहां यह





फैसला लिया गया कि बीआरबीसीएल तब तक गांवों को बिजली की आपूर्ति देगी जब तक दक्षिण बिहार बिजली वितरण कंपनी लिमिटेड (एसबीपीडीसीएल) बिजली के कनेक्शन मुहैया नहीं करा देती. औरंगाबाद के जिला मजिस्ट्रेट राहुल रंजन महिवाल ने कहा, ‘‘गतिरोध सुलझ गया है.' हालांकि उन्होंने इस मुद्दे के बारे में विस्तार से बताने से इंकार कर दिया. औरंगाबाद जिला प्रशासन और बीआरबीसीएल के प्रतिनिधि तथा गांव वाले बैठक में शामिल हुए. गांव वालों ने बीआरबीसीएल के करीब 150 कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों को रविवार से बंधक बना रखा था. वे अपने गांवों में बिजली बहाल करने की मांग कर रहे थे.




अगर आप चाहते है की ऐसे ही बेहतरीन आर्टिकल पढना तो आप अपना ईमेल आई डी यहाँ डाले और सीधे पाए लेख अपने ईमेल पे :
आपको इस आर्टिकल को पढने के लिए और इस पेज पे विजिट के लिए धन्यवाद | आपको ये आर्टिकल कैसा लगा हमें जरुर बताये निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में. आप अपना बहुमूल्य विचार निचे व्यक्त करें.